February 24, 2024
ट्रेंडिंगबिजनेसलाइफस्टाइल

Driverless कार नहीं आने दूंगा गडकरी

भूतल परिवहन मंत्रालय संभाल रहे मंत्री नितिन गडकरी का कहना है कि वे एक बार नहीं कई बार यह साफ कर चुके हैं कि भारत में ड्राइवरलेस कारों को भारत में आने देने का मतलब बेरोजगारी बढ़ाना है और इसलिए वे इसकी इजाजत नहीं दे सकते. गडकरी ने एक बार फिर कहा है कि वे ड्राइवरलेस कारों को भारत में आने नहीं देंगे और इसकी वजह यह है कि यदि इन गाड़ियों को एक बार आ जाने दिया गया तो लगभग 80 लाख लोग जो ड्राइवर बतौर काम करते हैं उनके बेरोजगार होने का खतरा बढ़ जाएगा. गडकरी पहले भी यह बात कह चुके हैं और वे अमेरिका दौरे पर भी इस बात को साफ कर चुके हैं कि वे भारत में ऐसी गाड़ियों को लाने के पक्ष में नहीं हैं. आईआईएम नागपुर में बोलते हुए उन्होंने कहा कि मेरे सामने बार बार टेस्ला के भारत आने की बात कही जाती है लेकिन मैं साफ कर देना चाहता हूं कि टेस्ला का भारत में स्वागत है लेकिन यदि वे चाहें कि वे गाड़ियां चीन में बनाकर भारत में बेचें तो इसकी इजाजत नहीं दी जा सकती है.