June 24, 2024
ट्रेंडिंगराष्ट्रीय

INDI गठबंधन में बढ़ रही सीटों पर तकरार

बिहार में नीतिश के इंडी गठबंधन से बाहर हो जाने के बाद अभी इसे गठजोड़ को और झटके लगते जा रहे हैं, पहले तो पंजाब में आप ने एक भी सीट कांग्रेस के साथ शेयर करने से इंकार कर दिया और अब बंगाल में ममता बनर्जी और उनके भतीजे ने साफ कह दिया है कि वे कम्युनिस्टों और कांग्रेस को साथ में हराना चाहते हैं. उधर यूपी में अखिलेश भी अपनी ही चालें चल रहे हैं, उन्होंने कहा था कि वे कांग्रेस को 11 सीटें देने को तैयार हैं लेकिन इस बीच उन्होंने 16 सीटों पर अपने प्रत्याशी घोषित कर दिए और इनमें वे सीटें शामिल हैं जिन पर कांग्रेस मेहनत करती रही है या जो वो अपने लिए थोड़ी संभावना वाली मानती है. इंडी गठबंधन में जो हलचल मची हुई है उसमें सबसे ज्यादा नुकसान में कांग्रेस ही है क्योंकि बाकी क्षेत्रीय क्षत्रप उसे भाव ही नहीं देना चाह रहे हैं. पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी भी इसी राह पर हैं कि उन्हें कांग्रेस के साथ सीट शेयर न करना पड़े और वो तो यह भी कहने से नहीं चूक रही हैं कि हमें कांग्रेस को हराना है, वहीं उनके भतीजे अभिषेक इस बारत पर बेहद खफा हैं कि कांग्रेस के अधीर रंजन चौधरी लगातार तृणमूल पार्टी और नेतृत्व को कटघरे में खड़ा करते रहे हैं और काफी कुछ कहने के बाद अब कांग्रेस चाहती है कि तृण्णमूल उसके साथ सीट शेयर करे. पंजाब को लेकर भी आप ने कह दिया है कि वह कांग्रेस को कोई सीट नहीं देना चाहती और तो और केरल तक में कांग्रेस के लिए हर सीट को पाने के लिए मारामारी है क्योंकि लेफ्ट का मानना है कि वह कांग्रेस को सीट शेयर में जो क्षेत्र दे भी देगा वह सिवा नुकसान के कुछ नहीं होना है. कांग्रेस के कई नेता भी इस बात पर पार्टी से खफा हैं कि जब लोकसभा चुनाव सिर पर हैं तब बड़े कांग्रेसी नेता न्याय यात्रा के नाम पर राजनीतिक पर्यटन करने में लगे हुए हें जिसका कोई सीधा फायदा नजर नहीं आ रहा है. उधर ममता बनर्जी ने उन जगहों से अपनी पदयात्रा शुरु कर दी है जहां से पिछले दिनों राहुल गांधी निकले हैं और इन जगहों पर भाषण देते हुए ममता साफ कह रही हैं कि हमें कांग्रेस को हराना है.