June 19, 2024
ट्रेंडिंगदेश दुनिया

ब्रिटिश मीडिया भारत को लेकर अब भी भेदभाव वाला

इनसाइट यूके ब्रिटने में रह रहे लोगों का ग्रुप है और इसने अपनी ताजा रिपोर्ट में कहा है कि ब्रिटिश मीडिया अब भी भारत को उसी तरह से देखता है जैसे वह ब्रिटेन का गुलाम हो. इस सर्वे में अधिकतर ब्रिटेन में रह रहे भारतीयों ने कहा है कि ब्रिटिश मीडिया की सोच भेदभाव वाली है और अब भी वह भारत की रिपोर्टिंग में गाय, मसालेदार खाने और जातिभेद को ही सबसे ज्यादा जगह देता है. इसमें एक तथ्य यह भी उभरकर आया कि बीबीसी को 91 प्रतिशत ब्रिटिश इंडियन खबर के लिए अच्छा स्त्रोत नहीं मानते हैं और बाकी ब्रिटिश मीडिया में पर भी अस्सी प्रतिशत लोग भरोसा नहीं करते हैं. सर्वे में भाग लेने वाले लोगों में हिंदुओं को लेकर ब्रिटिश मीडिया की सोच नकारात्मक ही मानी है और कहा है कि या तो ये उन्होंने खुद महसूस किया है या उनके किसी करीबी के साथ ऐसा हुआ है कि मीउिया ने भारतीय होने के नाते उनके बारे में नेगेटिव परसेप्शन बनाया गया. बीबीसी को पसंद न करने वालों की संख्या इतनी ज्यादा है तो यह भी तय ही था कि टीवी लाइसेंस फीस के विरोध में भी अधिसंख्य ब्रिटिश इंडियन होंगे लेकिन यह आंकड़ा 86 प्रतिशत तक होगा इसका अंदाजा सर्वे वालों को भी नहीं था, इस फीस के बारे में सेर्व में भाग लेने वालों का कहना है कि इस फीस से बेहद कम विश्वसनीयता वाले बीबीसी को फंड किया जाता है इसलिए वे इसका विरोध करते हैं.