February 23, 2024
ट्रेंडिंगताजा ख़बरेंप्रदेशमध्यप्रदेश

दिग्विजय को पराजय देने वाली प्रियंका

कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह राष्ट्रीय राजनीति को प्रभावित करते हैं और कांग्रेस तो उन्हें चाणक्य का अवतार ही मानती है लेकिन इस बार अपने ही गृहक्षेत्र चांचौड़ा में अपने भाई को बुरी तरह हारने से न बचा पाने के बाद उनकी किरकिरी तो हुई है. इसमें ज्यादा बड़ी बात यह है कि जिसने लक्ष्मणसिंह को हराया है उसकी उम्र महज 31 साल है और उसने भाजपा भ्ज्ञी इसी साल ज्वाइन की है. गुना जिले की चांचौड़ा सीट दिग्विजय सिंह का गढ़ रही है लेकिन इस बार न सिर्फग् प्रियंका पेंची ने उस गढ़ में सेंध लगादई बल्कि साठ हजार से ज्यादा वोटों से दिग्विजय के भाई को हराकर पूरा किला ही ध्वस्त कर दिया है. प्रियंका पेंची इससे पहले सिर्फ एक जिला पंचायत चुनाव लड़ी थीं जिसमें उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा था लेकिन इसके बाद उन्होंने तय किया कि वो क्षेत्र में ही रहेंगी और यही जिद उनके काम आई. इंजीरनियरिंग बैकग्राउंड से आईं प्रियंका राजस्थान की रहने वाली है जो आईआरएस प्रद्युमन सिंह मीणा से शादी के बाद चांचौड़ा आईं.