June 19, 2024
इंदौरताजा ख़बरेंभोपालमध्यप्रदेश

BRTS के इंदौर में भी कुछ ही दिन बचे हैं

नई सरकार ने काम संभालते ही जिन मुद्दों पर निर्णय लिए हैं उनमें भोपाल बीआरटीएस भी शामिल है और तय यह किया गया है कि भोपाल का बीआरटीएस चात्म कर दिया जाएगा वैसे इसे तकनीकी तौर पर यह कहा गया है कि इसमें सेंट्रल डिवाइडिंग की जाएगी लेकिन इसका मतलब साफ है कि भोपाल में अब बीआरटीएस का पूरा कॉरिडोर खत्म हो जाएगा. जिस तेजी से यह निर्णय आया है उससे साफ है कि इंदौर का बहुचर्चित और कानूनी पचड़ों तक में पड़ चुका बीआरटीएस भी अब ज्यादा दिन नहीं टिकने वाला है. इंदौर के बीआरटीएस को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों ने अब तक अपना पूरा जोर लगा दिया और यही वजह है कि जो सवाल इसे बनाए जाने से पहले ही उठ रहे थे उन्हें नजरअंदाज कर इसे बनाया गया और बाद में इसे लेकर अदालत तक सवाल जवाब का दौर चला जो अब तक पूरा नहीं हो सका है. दरअसल बीआरटीएस को कायम रखने को उन अधिकारियों ने अपनी नाक का सवाल बना लिया था जिनकी पहल पर इसे बनाया गया था लेकिन अब सूबे के मुखिया के बदलते ही वे अफसर बिना विभाग के सचिव बन चुके हैं और उनकी जिद पर अब नई सरकार की मर्जी भारी पड़ती लग रही है. भोपाल के संदर्भ में हुआ निर्णय कितनी जल्दी इंदौर में लागू होता है यह उत्सुकता का विषय होगा.