December 1, 2023
देश दुनियाबिजनेस

आसान नहीं नेट जीरो कार्बन का लक्ष्य

ऊर्जा, पर्यावरण और जल परिषद (सीईईडब्ल्यू) का मानना है कि भारत में इस्पात और सीमेंट संयंत्रों का नेट जीरो कार्बन उत्सर्जन के लक्ष्य की ओर बढ़ना एक मुश्किल राह पर चलने जैसा है. इस बड़े लक्ष्य को हासिल करने के लिए पूंजीगत व्यय में 47 लाख करोड़ रुपये की अतिरिक्त जरूरत पड़ेगी.

यही नहीं नेट जीरो कार्बन के लिए इन दोनों क्षेत्रों को ऑपरेटिंग कॉस्ट भी हर साल एक लाख करोड़ रुपये से बढ़ानी होगी

यह भी पढ़ें : सीईईडब्ल्यू का कहना है कि इस्पात और सीमेंट उद्योगों में डीकार्बोनाइजिंग करने से जलवायु बेहतर करने में मदद मिलेगी और क्वालिटी में भी अच्छा असर होगा लेकिन इससे जुड़े खर्च भी अपनी जगह हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *