February 24, 2024
ट्रेंडिंगबिजनेस

Goa को पीछे छोड़ा बनारस और अयोध्या ने

नए साल के जश्न के निए जिन जगहों पर अब तक सबसे ज्यादा भीड़ होती रही है उन जगहों को पर्यटन के हिसाब से बनारस, अयोध्या और उज्जैन ने पीछे छोड़ दिया है. होटल बुकिंग के लिए पहचानी जाने वाली ओयो कंपनी की बात मानें तो अयोध्या में रुकने के बारे में पता लगाने वाले अस्सी प्रतिशत लोग ज्यादा रहे और यह तब का आंकड़ा है जब अभी वहां मंदिर की प्राणप्रतिष्ठा का कार्यक्रम तय ही हुआ है. आंकड़े कह रहे हैं कि बनारस में काशी विश्वनाथ और गंगा के दर्शन करने के लिए आने वालों की संख्या आठ लाख को पार कर चुकी है और उज्जैन में महाकाल लोक और महाकाल मंदिर के दर्शन करने वालों की संख्या भी इसी आंकड़े के आसपास बताई जा रही है. मथुरा में पिछले तीन दिनों में पहुंचने वालों की संख्या अठारह लाख के आसपास बताई जा रही है. ओयो के रितेश अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर जानकारी देते हुए बताया है कि उनकी एप पर अयोध्या के बारे में तलाश करने वाले अस्सी प्रतिशत की दर से बढ़े हैं जबकि गोवा के लिए यही संख्या पचास प्रतिशात है. जिस तरह से धार्मिक पर्यटन बढ़ रहा है उससे अनुमान लगाया जा रहा है कि अकेले अयोध्या राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा के समय क्षेत्र में पचास हजार करोड़ से कहीं ज्यादा का व्यापार बढ़ेगा और जो ट्रेंड है यदि वही जनवरी के बाद भी कायम रहता है तो काशी, उज्जैन और अयोध्या में पहुंचने वालों की संख्या पिछले कुछ सालों की संख्या से कई गुना तक बढ़ सकती है. पिछले सावन में बनारस पहुंचने वालों की संख्या ड़ेढ़ करोड़ को भी पार कर गई थी.