June 16, 2024
Uncategorized

Farmers protest:- किसानों का आंदोलन आखिर बार – बार क्यों हो रहा है ?

एक बार फिर किसानों ने सरकार के खिलाफ विरोध – प्रदर्शन कर दिया है . पंजाब – हरियाणा समेत कई राज्यों से किसान दिल्ली कूच करने की तैयारी कर रहे हैं. चलिए जानते हैं कि वह कौन सी मांगे है , जिनके चलते किसान इस बार विरोध – प्रदर्शन कर रहे है

एक बार फिर से किसानों ने दिल्ली को घेरने की तैयारी कर ली है . पंजाब – हरियाणा सहित और भी कई राज्यों के किसान दिल्ली कूच करने की तैयारी कर रहे हैं. हालांकि किसानों ने इस आंदोलन को ‘ चलो दिल्ली मार्च’ का नाम दिया है , लेकिन इस आंदोलन को 2.0 भी कहा जा रहा है . दरअसल, -इस किसान आंदोलन का पैटर्न , 2020-2021 में हुए किसान आंदोलन से काफी मिलता जुलता है , इस आंदोलन में पिछली बार की तरह इस बार भी अलग – अलग राज्यों से किसान इस आंदोलन में शामिल होने वाले है .

किसान इस बार अपने साथ ट्रैक्टर – ट्राली और राशन भी लेकर आने वाले है . इस बार भी पिछली बार की तरह किसानों का प्लान लंबे समय तक दिल्ली के अलग अलग वॉर्डर पर धरना देने का है . हालांकि, यह इस बार इस आंदोलन को पिछली बार की तरह सभी किसान संगठनों का समर्थन प्राप्त नहीं है. यह आंदोलन संयुक्त किसान मोर्चे के बैनर पर नहीं हो रहा है . इसे अलग अलग किसान संगठन मिलकर आयोजित कर रहे हैं . किसानों की मांगो को लेकर सरकार के साथ कई बैठक हो चुकी है .

क्या है मांगे ?

किसान संगठन कृषि आंदोलन को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे , जो कि अब इसे सरकार ने वापस ले लिया है . हालांकि, किसान अभी एम एस पी पर कानूनी गारंटी चाहते है . इसके अलावा आंदोलन के दौरान हरियाणा, उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश में किसानों पर दर्ज केस को वापस लेने की मांग कर रहे है. इसके अलावा लाल किया हिंसा में प्रदर्शनकारियों पर दर्ज केस वापस लेने की मांग भी किसानों ने की है ।