May 27, 2024
अंतरराष्ट्रीयरोमांचकलाइफस्टाइल

मंगल पर रही होंगी कई नदियाँ

पेन स्टेट यूनिवर्सिटी के जियोसाइंटिस्ट बेंजामिन कार्डेनास का मानना है कि मंगल ग्रह संभवतः एक नदियों का ग्रह था यानी इस ग्रह पर कभी काफ़ी सारी नदियाँ हुआ करती थीं. कार्डेनास और उनकी टीम क्यूरोसिटी रोवर से मिले संकेतों, मेक्सिको खाड़ी के नीचे चट्टानों के स्कैन और कई कंप्यूटर सिमुलेशनों के संयुक्त विश्लेषण के बाद यह कह रहे हैं कि मंगल ग्रह पर एक समय में प्रचुर मात्रा में पानी रहा होगा. मंगल पर कई क्रेटर में नदियों के पुराने अवशेषों की पहचान मिलने के संकेतों को वी काफ़ी उत्साह बढ़ाने वाली बात मानते हैं.

रोवर ने मंगल ग्रह ऐसे कई क्षेत्रों की पहचान की है जिन्हें ‘बेंच-एंड-नोज फीचर्स’ कहा जाता है; स्टीप और शैलो ढलानों को ‘बेंच’ कहा जाता है, जबकि छोटे सिरे को ‘नोज’ कहा जाता है। ऐसे फीचर्स नदियों के बहाव और हवा के चलते बनते हैं. ऐसे फीचर बताते हैं कि क्षेत्र में नदियाँ कितनी थीं और उनका बहाव कितना होता होगा. उधर कुछ अन्य वैज्ञानिक मान रहे हैं कि रोवर से मिली जानकारी के आधार पर कहा जा सकता है कि वहाँ चूहों के जीवित रहने की संभावना तो बनती है. हालाँकि अभी यह बात मनुष्यों के बारे में नही कही जा सकती है.