May 27, 2024
राष्ट्रीय

हीरानंदानी और महुआ प्रश्नों का नशा


सांसद महुआ मोइत्रा के लिए यह हफ़्ता काफ़ी हंगामे लेकर आया है एक तरफ तो उनके ऐसे फोटो लीक और वाइरल हो गये जो निजी थे दूसरी तरफ वो पैसे के बदले लोकसभा में सवाल पूछने के मामले मे फँस गयी हैं. अभी तक जो बातें सामने आई हैं उनसे इतना तो सॉफ है कि दर्शन हीरानंदानी से वो जुड़ी हुई हैं लेकिन जिस तरह मामला उठाने वाले निशिकांत दुबे को मोइत्रा माफी माँगने को कहा है उससे शायद वो यह बताना चाह रही हैं कि उन पर लगे आरोप ग़लत हैं. दरअसल मोइत्रा के पूछे गये सवाल और उन पर लगे आरोप का मिलन किया जाए तो पहली नज़र मे तो यही लगता है कि संसद मे पूछे गये उनके सवालों के पीछे कोई वजह तो थी. जब एक बार ग़रीबी पर बोलते हुए महुआ को याद आया कि उनका पर्स ही लाखों का है तो वो इसे छुपाने की कोशिश करती नज़र आई थीं, अब उस पर्स सहित कई सारी चीज़ों और लेनदेन को लेकर यही सवाल उठ रहे हैं कि यह सब उन्हें हीरानंदानी की तरफ से मिलता रहा और इसके बदले में उनसे संसद मे अपनी पसंद के सवाल उठवाए जाते रहे. इसमें वी प्रश्न भी शामिल हैं जिनसे हीरानंदानी को कुच्छ लाभ होता और वो भी जिनके उठाए जाने से सीधे अडानी को नुकसान होता. वैसे महुआ के लिए मुश्किल यह भी है कि जो जानकारियाँ सामने आई हैं उसमें उनके ही किसी करीबी का शामिल होना तय लग रहा है. यदि उन पर लगे आरोप सही साबित होते हैं तो यह बड़ा मामला होगा. उधर हीरानंदानी ग्रुप की ओर से कहा गया है कि महुआ को उनकी तरफ से कोई पैसा सवाल पूछने के एवज में नहीं दिया गया है. जिस तरह से दोनों तरफ से बात बढ़ी है उससे तय है कि बात निकली है तो दूर तक जाएगी.