April 25, 2024
राष्ट्रीय

बदले सुरों को समझने की हो रही कोशिश

मोदी विरोध की झंडाबरदार रही शेहला रसीद के सुर पिछले दिनों अचानक बदले हुए नजर आ रहे हैं. एक इंटरव्यू में उन्होंने मोदी की जमकर तारीफ करते हुए कहा कि मोदी के प्रति मेरा हृदय परिवर्तन हो चुका है औ इसका कारण यह अहसास है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक निस्वार्थ व्यक्ति हैं जो भारत को बदलने के लिए क्रांतिकारी निर्णय ले रहे हैं। उन्होंने बहुत आलोचनाओं का सामना किया है. शेहला के इन अचानक बदले सुरों से सभी का चौंकना स्वाभाविक है. जिस तीखे अंदाज में वो अब तक मोदी का विरोध करती रही हैं उन बातों से उनकी ताजा बातें कतई मेल नहीं खा रही हैं लेकिन शेहला यह यकीन दिलाने में लगी हुई हैं कि वाकई उनकी सोच बदल चुकी है. कश्मीर से लेकर मुस्लिमों के प्रति मोदी के व्यवहार तक सारे मामलों में वे अब मोदी के पक्ष में बोलती नजार आ रही हैं. पिछले अक्टूबर में उन्हें पहली बार कश्मीर नीति को लेकर मोदी की तारीफ करते सुना गया था जिसमें उन्होंने कहा था कि वह घाटी में हो रहे बदलावों पर तथ्य पेश भी कर सकती हैं क्योंंकि केंद्र सरकार के निर्णयों से कश्मीर की हालत सुधरी है. तब इसे सिर्फ एक नीति पर उनका समर्थन माना गया था लेकिन अब वे कह रही हैं कि न सिर्फ प्रधानमंत्री बल्कि गृहमंत्री भी निस्वार्थ व्यक्ति हैंए जाहिर है सुर बदलने के पीछे कोई तो वजह है.