May 25, 2024
बिजनेस

सितंबर में डीमैट अकाउंट तेजी से बढ़े


अगस्त के बाद सितंबर में भी 30 लाख से अधिक डिमटेरियलाइज्ड (डीमैट) खाते खुले। यह लगातार दूसरा महीना है जब इन खातों की संख्या ने 30 लाख का आंकड़ा पार किया है. इसका सीधा मतलब यह निकाला जा सकता है कि पता चलता है कि घरेलू शेयर बाजार प्रत्यक्ष निवेश के लिए मजबूत है।

सितंबर में सेंसेक्स ने अपने उच्चतम स्तर को पार कर लिया और रिकॉर्ड आईपीओ भी इस दौरान आए। इन वजहों से डीमैट खाते तेजी से बढ़े. शेयर, बॉन्ड और अन्य प्रतिभूतियों रखने के लिए डीमैट खाते जरूरी हैं।

अगस्त और सितंबर के दो महीनों में करीब 62 लाख खाते जुड़ने के साथ देश में कुल डीमैट खाते लगभग 13 करोड़ हो गए हैं जो हमारी आबादी का लगभग 10 प्रतिशत है।

वैसे एक व्यक्ति एक से अधिक डीमैट भी खोल सकता है इसलिए निवेशकों की सही संख्या इससे प्रदर्शित नहीं होती. एनएसई का अनुमान है कि शेयर बाजार के निवेशकों की कुल संख्या 8 करोड़ से ज्यादा तो हो ही चुकी है।