About us

Indepth News पारिवारिक विरासत बन चुके मीडिया संस्थानों के बीच खबरों की एक ऐसी कल्पना है, जिसमे हर खबर की तह तक जाकर उस खबर हो आप तक पहुचायेंगे और यही हमारे सच की पड़ताल करने का जज़्बा हमें भीड़ से अलग बनाता है। दरअसल, मीडिया अब भी, ज्यादातर घटनाओं में, सरकारी एजेंसियों, दफ्तरों और आरटीआई से प्राप्त किए कागजातों को छापकर वाहवाही लूटता है। ज्यादातर ‘खोजी खबरें’ प्लेट में सजी-सजाई मिलती हैं। उनकी आगे कोई खोजबीन नहीं की जाती है। बड़े-बड़े अखबार और टीवी चैनल न्यूयॉर्क टाइम्स, वॉशिंगटन पोस्ट या सीएनएन या बीबीसी से खोजी पत्रकारिता में तुलना करना चाहते हैं। मगर खोजी पत्रकारिता तो दूर, अच्छी और सामान्य खबरों की जांच-पड़ताल तक नहीं की जाती है। Indepth News प्रचलित मीडिया के प्रति इसी खीझ के पार जाकर की गई बगावत का नतीजा है। Indepth News के अस्तित्व में आने की मुख्य वजह भी यही है। हम खबरों को साफगोई से पेश करते हैं। हम खबरों की तह तक जाते हैं और साथ ही साथ जनहित और लोकतांत्रिक मूल्यों के अनुसार चलने के लिए हम प्रतिबद्ध है। हमारा उद्देश्य खोजी पत्रकारिता के स्वरूप को बचाए रखने का है। हम वादा करते हैं कि पाठकों की जरूरत के मुताबिक क्राइम, राजनीति, भ्रष्टाचार, अव्यवस्था, खेल और मनोरंजन से लेकर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की खबरें हम तह तक खोदकर लाएंगे।